Latest News

Film Review: अधूरी-अधूरी फिल्लौरी

फिल्लौरी क्लीन स्लेट फिल्म्स और फॉक्स स्टार स्टूडियो के सहनिर्माण में बनी है। फिल्म की कहानी पंजाब के ‘फिल्लौर’ की है। पंजाब में शूट हुई इस फिल्म का निर्देशन अंशाई लाल ने किया है।

फिल्म में अनुष्का के अलावा दिलजीत दोसांझ और फिल्म ‘लाइफ ऑफ पाइ’ के अभिनेता सूरज शर्मा भी हैं। बॉलिवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा, दिलजीत दोसांझ और सूरज शर्मा स्टारर फिल्म ‘फिल्लौरी’ में हनुमान चालीसा पढ़ने वाले एक सीन को सेंसर बोर्ड ने हटाने का निर्देश दिया है।

कोई मांगलिक होता है, तो दोषमुक्त करने के लिए पेड़ से शादी की परंपरा भारत के कई राज्यों में प्रचलित है। इस फिल्म में भी यही परंपरा आगे बढ़ती दिखाई दी है।

फिल्म की शुरुआत कॉमिक अंदाज में होती है। मांगलिक हीरो करन (सूरज शर्मा) ने जब पेड़ के सात फेरे लिए तो उस पर रहने वाली भूतनी शशि (अनुष्का शर्मा) तार्किक रूप से उसकी दुल्हन बन गई। अब क्या होगा दूल्हे का?

होने वाली दुल्हन अनु (मेहरीन परिजादा) के साथ उसकी लव स्टोरी का? भूतनी पीछा छोड़ेगी या नहीं? सुस्त अंदाज में ठंडे-नीरस जवाब मिलते हैं। न धड़कता रोमांस। न फड़कती कॉमेडी। कल्पना से शुरू कहानी 2017 की जमीन पर उतर आती है और भूतनी बार-बार 98 बरस पीछे फ्लैशबैक में जाती है।

जहां शशि छद्म नाम ‘फिल्लौरी’ से कविताएं लिखती है। किसी को उसकी सच्चाई नहीं पता। वह खूब छपती और पढ़ी-सराही जाती है। गांव में लफंगा टाइप एक गायक है, उसका नाम भी है फिल्लौरी (दिलजीत दोसांज)। लोग समझते हैं कि वह ये कविताएं लिखता है।

वह शाबाशियां लूटता है। परंतु एक दिन उससे शशि का सामना होता है और हालात बदल जाते हैं। प्यार की कोंपलें फूटती हैं और गायक सुधर जाता है। परंतु धीरे-से दोनों की जिंदगी में ट्विस्ट आ जाता है।

यहां सारा जोर अनुष्का-दिलजीत की लव स्टोरी पर है। जबकि उनकी भूमिकाओं का रोमांस छूता नहीं। वहीं सूरज-मेहरीन की कहानी के रोमांस को लेखक-निर्देशक उभरने नहीं देते। उनकी कॉमेडी-ट्रेजडी टुकड़ों में आती और गायब होती है।

भूतनी के रूप में अनुष्का कहीं-कहीं सादगी और नादानी से आकर्षित करती हैं परंतु शशि-रूप में वह भावहीन है। दिलजीत फिल्म में कुछ विशेष नहीं जोड़ते। सूरज का अभिनय किरदार के अनुरूप है, मगर उसे ज्यादा ही कनफ्यूज दिखाया गया है।

मेहरीन के लिए बॉलीवुड में यह डीग्लैम और कतई उत्साहित नहीं करने वाली शुरुआत है। कहानी इतनी फार्मूलाबद्ध और रेडीमेड है कि निर्देशक अंशई लाल ने कुछ बेहतर जोड़ा होगा, यह आभास नहीं होता। गीत-संगीत औसत है। कैमरावर्क अच्छा है। परंतु फिल्म में थोड़ा अधूरापन जरूर है।

फिल्लौरी के बारे में बॉलीवुड सितारों ने भी अच्छी प्रतिक्रिया दी है। शाहरुख खान ने ट्वीट किया-

Phillauri the attempt at doing wot u believe in. @AnushkaSharma @diljitdosanjh #anshai #karnesh keep believing in the impossible.
— Shah Rukh Khan (@iamsrk) March 22, 2017

आलिया भट्ट ने भी लिखा-

#Phillauri is such a lovely unique film!!!With such honest performances from the whole cast!!!! @AnushkaSharma you are such an inspiration
— Alia Bhatt (@aliaa08) March 23, 2017

निर्माताः कर्णेश शर्मा-अनुष्का शर्मा
निर्देशकः अंशई लाल
कास्टः अनुष्का शर्मा, दिलजीत दोसांज, सूरज शर्मा, मेहरीन परीजादा
रेटिंग- 3


 

MOST READ NEWS-

Film Review: यहां एक एनकाउंटर है, परतें खुलती हैं

KAABIL REVIEW: जो देख नहीं सकते उनको देखना जरूरी है

RAEES REVIEW: ज्यादा दिमाग लगाने की जरूरत ही नहीं है

मनोरंजन जगत की बेहतरीन और ताजा खबरों के लिए क्लिक करें। हमारे फेसबुक पेज से जुड़े रहिए-

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply